LOADING

Type to search

अन्तरा-शब्दशक्ति (अंक-8) फरवरी 2018

7 Comments

  1. अंतरा का यह अंक सामान्य नही है। यह एक महत्वपूर्ण दस्तावेज और अनमोल उपहार है। हम सबके लिए। बधाई।

    Reply
  2. Pinky Paruthy Anamika February 19, 2018

    बहुत सुंदर पत्रिका, मधुर स्मृतियाँ, शानदार आयोजन, मंगलकामनाएँ।

    Reply
  3. बहुत सुन्दर अंक..सम्पादक मण्डल आ. अविचलजी, आ. प्रीति जी को बहुत बहुत बधाई

    Reply
  4. Vasuundhara Rai February 19, 2018

    माँ तो माँ है……हिंदी माँ की जय हो…प्रीती और अविचल अपने लक्ष्य की ओर बढते हुए नये कीर्तिमान बनाओ यही कामना….बहुत सुंदर

    Reply
  5. सुब्यवस्थित तरीके से पुस्तकों के विमोचन का आयोजन किया गया l संपादक मण्डल प्रीति जी एवं अविचल जी आपकी कार्यकुशलता परिलक्षित करता यह पूरा कार्यक्रम l आपने पूरे देश से दिग्गज हस्तियों को जोड़ा एवं विदेश प्रवासियों का भी पुस्तकों के मुख्य पृष्ठों की डिजाइन कर पूरे विश्व को इस बड़े आयोजन में सम्मिलित किया l आपके कार्यक्रम की इस कड़ी में हिन्दी मातृभाषा को जो चित्रांकित किया वास्तव में यह बड़ी उपलब्धि है तथा हिन्दी माता के लिये जो वंदना लिखी व संगीत में बांधा वह भी सराहनीय है l यह अंक आपकी पूरी टीम की वास्तविक उपलब्धियों से भरा है l में इसकी ह्रदय से प्रशंसा करता हूं एवं सभी को पूरी टीम को जो इस कार्य में सीधे तौर पर या अपरोक्ष रूप से सम्मिलित हुये बधाई देता हूं l

    डॉ अनिल कुमार कोरी, जबलपुर ( म.प्र.)

    Reply
  6. इस अंक ने इतिहास के पन्नों में वैसा ही नाम लिखाया है जैसा तीन फरवरी को अंतरा ने अपनी शक्ति का अहसास कराया है अनंत बधाई और शुभकामनाऐं

    Reply
  7. बहुत सुन्दर संकलन। प्रीति जी और अंतरा की पूरी टीम को नमन ।

    Reply

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *